How to write SEO friendly article - [Best Tips] SEO friendly article कैसे लिखे ?

आप एक नये ब्लाॅगर है तो आपके मन में सवाल आता होगा कि ऐसा article कैसे लिखे जो गुगल के पहले पेज पर रैक कर जाए .

Seo friendly article kaise likhe


इसके लिए आपको जानना बेहद जरूरी है कि "seo friendly article kaise likhe" , और article लिखते समय करने वाली कुछ गलतियों से कैसे बचें .



इस आर्टिकल में हम एक एक point को बारीकी से समझाते हुए बताएँगे की how to write SEO friendly article in hindi . 


वो कोनसी गलतियाँ है जो आपको article लिखते समय नहीं करनी चाहिए .


प्रत्येक blogger दिन रात इसी कोशिश में लगा रहता कि कैसे भी करके उसका Blog article rank कर जाए .

वो सोचता है कि हमारा आर्टिकल सर्च इंजन में रैंक कर जाये और अच्छा traffic ले पाये ।

how to write seo friendly article


इस आर्टिकल को पढने के बाद आपके मन से ये सवाल seo friendly article कैसे लिखे? हमेशा के लिये गायब हो जायेगा ।

हम आपको एक प्रोपर SEO friendly आर्टिकल लिखने के कुछ ऐसे tips बतायेंगे . जिनको अगर आप अच्छे से अपने आर्टिकल में apply करते है तो बहुत कम समय में आर्टिकल को रैंक करवा पायेंगे ।

Article लिखना शुरू करने से पहले आपको कुछ काम करना होगा जो आपके article के on page seo में मदद करेंगे । उनमें से एक है keyword research .


keyword क्या होता है और keyword research कैसे करें ?


ये बहुत बडा टाॅपिक है है इस पर एक पुरा आर्टिकल बन सकता है । लेकिन हम आपको कुछ बेसिक चीजे बता देते है.

जैसे मान लो आप कोई रैसिपी पर आर्टिकल लिख रहे हो कि " पकोड़ा करि कैसे बनाए " । इसमें पकोड़ा करि आपका मुख्य keyword होगा ।

अब आप इस keyword को गुगल सर्च में type करें , गुगल आपके सामने इससे सम्बन्धित 4 , 5 विकल्प दिखायेगा । 

इन विकल्प में से 2,3 ऐसे keyword चुने जो आपके आर्टिकल से सम्बन्ध रखते हो । इन keyword को आप अपने आर्टिकल में जरुर डाले ।

क्योंकि हम जब भी गुगल में कुछ सर्च करने जाते है , तो type करते ही हमारे सामने गुगल कुछ विकल्प दिखाता है  और हम उन पर क्लिक कर देते है ।

इसी प्रकार अगर आपके आर्टिकल में ऐसे keyword होंगे तो सर्च में जल्दी आयेगा ।

इसके अलावा आप keyword "आलु करि" पर keyword research करें , इसके लिये  कुछ tools है जैसे Google research tool  और keyword planner । 


ये tools आपके keyword  पर कितना competition है और monthly कितना सर्च होता है और कुछ नये keyword के suggestions देते है ।

आप हमेशा कम competition वाला keyword चुनें जिससे आर्टिकल रैंक करवाना आसान हो ।

अगर आपकि website WordPress पर है , तो आप इन tips के साथ SEO के कुछ plugin का उपयोग कर सकते है जिससे आपको फायदा होगा .

अगर आपकि website blogger पर है तो इन tips को अच्छे से read करें ।

seo friendly article लिखने के कुछ मुख्य पाॅइट है :- 

⊙ Tital simple और छोटा रखें

Article का tital सिर्फ 55 characters में हि बनाये . Titil बिल्कुल simple बनाये ताकि users को देखते ही समझ आ जाए कि आपने ये आर्टिकल किसके बारे में पढ़ा है.


Tital आर्टिकल से सम्बधित और आकर्षक डाले. आकर्षक tital बनाते समय ध्यान में रखें कि click bait tital ना लिखे , tital आपके article से जुड़ा हुआ होना चाहिए .


अगर आप article के contant से बाहर जाकर click bait tital लिखते हैं , तो users आपके आर्टिकल पर ज्यादा समय तक नहीं रहेंगे.


जिससे आपके article का Bonus rate बढ़ जाएगा. Bonus rate बढ़ने से आपका आर्टिकल कभी भी रैक नहीं कर पायेगा. Bonus rate बढ़ने से on page seo पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा .


 ● Permalink का इस्तेमाल करें

किसी भी आर्टिकल का url उसका permalink कहलाता है . 


Seo friendly article kaise likhe


Blogger या WordPress आपके आर्टिकल का permalink tital से automatic बना लेता है.

Automatic बनने वाला permalink बहुत बड़ा होता है जो SEO कि नजर से सही नहीं है .

इसलिए हमेशा ARTICLE के permalink को custom करके उसमें Focus keyword डालें .


meta description 

सर्च इंजन में हम कुछ सर्च करते हैं तो हमारे सामने बहुत सारे परिणाम आते उसमें से एक परिणाम को ध्यान से देखना सबसे ऊपर article का Tital दिखाई देता है.

उसके नीचे permalink यानी article का url फिर उससे नीचे article का meta description दिखाई देता है .

अगर आप meta description costume नहीं डालते है तो meta description में article का पहला पैराग्राफ automatic दिखाई देता है .

आपको meta description अपने आप से डालना है जो आकर्षक हो. User tital और meta description देखते ही आपके आर्टिकल को open कर लें .

Meta description में एक बार focus keyword और एक secondary keyword का इस्तेमाल जरुर करें .

Meta description 160 शब्दों के अन्दर ही रखें , इससे ज्यादा शब्द ना लिखे .

Meta description कैसे डालें 

अगर आपकी website WordPress पर है , तो आपको SEO के लिये जो plugin use करते हो, उसमें आपको meta description डालने का विकल्प मिलता है .

अगर आपकी वेबसाइट ब्लाॅगर पर है तो meta description डालने का विकल्प on करना होगा ।
⊙ ब्लाॅगर में meta tage के विकल्प को आॅन करने के लिये »अपना ब्लाॅगर open करें » ब्लाॅगर की सेटिंग्स को खोले » सेटिंग्स में नीचे आपको Search preference मिलेगा इस पर क्लिक करें और यहाँ से Search description को edit पर क्लिक करके enable कर दे ।


1st पैराग्राफ लिखने का तरीका 

अब आते है पहले पैराग्राफ पर , पहले पैराग्राफ में अपने मुख्य keyword को जरुर डाले. पहले पैराग्राफ में वो सब कम शब्दों में बताये जो आप आर्टिकल में बताने वाले हो ।

पहले पैराग्राफ में कुछ इस तरह से लिखे की लोग आपके आर्टिकल से जुड जाये और आपका आर्टिकल पुरा पढे ।

अगर ज्यादा से ज्यादा लोग आपके आर्टिकल पर पुरा समय बितायेगें तो गुगल आपके आर्टिकल को युजर के लिये अच्छा मानेंगा। जिससे गुगल आपके आर्टिकल की rank बढ़ा देगा.

आर्टिकल हमेशा छोटे छोटे पैराग्राफ बनाकर लिखे । ताकि readers को पढ़ने और समझने में आसानी हो.

article हमेशा बडा लिखे , कम से कम 700 शब्द , आपके आर्टिकल में जितने ज्यादा शब्द होंगे उतना हि अच्छे से आप जानकारी को समझा पायेंगे ।

अगर आप एक नये ब्लाॅगर है तो शुरु में बडे आर्टिकल लिखना मुश्किल लगेगा , लेकिन अगर आप लिख पाते है तो आपको बहुत फायदा मिलेगा ।

linking


अार्टिकल पोस्ट करते समय उसमें linking अवश्य करें । seo friendly article likhne में internal linking बहुत महत्वपूर्ण है .

How to write SEO friendly article

Linking 2 type से कर सकते हैं -

1. Internal linking   

Internal linking का अर्थ है latest लिख रहे आर्टिकल में अपने Blog website के ही किसी अन्य आर्टिकल को link करना ,  internal linking कहलाता है .

Internal linking से आर्टिकल का on page seo भी अच्छा हो जायेगा .

Internal linking से एक फायदा यह भी होगा कि visitor एक आर्टिकल से दुसरे आर्टिकल पर जाएंगे और आपकी Blog website पर अच्छा खासा time बिताएगे तो आपके Blog website का Bonus rate भी कम होगा .

2. Outbound linking 

Outbound linking का अर्थ है कि "आपके आर्टिकल में कुछ शब्दों में ऐसे  link लिंक दे , जो दुसरी बडी वेबसाइट के हो जिन पर इन शब्दों से सम्बन्धीत जानकारी हो । "

जैसे आपने मोबाइल के बारे में article लिखा है और आपने Article में "redmi note7 mobile" शब्द का इस्तेमाल किया है ।

इस शब्द में आप Amazon या flipcart जैसी बडी वेबसाइट से redmi note 7 की specifications का outbound link डाल सकते हो ।

ये link आपके Article को रैंक करवाने में मदद करेगें ।


images 


आर्टिकल में कम से कम 2 images का इस्तेमाल अवश्य करें ।

अार्टिकल में  छोटे साइज की images डाले , जिससे आर्टिकल क्लिक करने के बाद तुरन्त खुल जाये ।

अगर आपका आर्टिकल लोङ होने में ज्यादा समय ले रहा है , तो उसको सर्च इंजन कम प्राथमिकता देंगे और user भी Article खुलने का इन्तजार नही करेगा ।

वो back करके चला जायेगा , इससे आपके Article का बांउस रेट बढ़ जायेगा । फिर आपके आर्टिकल को सर्च इंजन में कोई अहमियत नही मिलेगी ।

सभी images copyright free डाले । सीधे internet से images download करके ना डाले ।

अगर आप copyright images use करते हो तो इसका negative असर आपके आर्टिकल पर पडेगा. और Adsense के Approval पर भी इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है ।

  > Copyright free images कहाँ से ले

सभी images का भी SEO करें , images में image tital और alt text डाले ।

image के tital और alt text में भी आपका मुख्य keyword इस्तेमाल करें ।

अगर हो सके तो आप आर्टिकल के बीच में खुद का विडीयों भी लगाये जो आर्टिकल से सम्बधित हो  ।

अगर आने वाला visitor आपके विडीयो को देखता है तो आपके आर्टिकल पर उसके समय बिताने का बांउस रेट बढेगा । जो आर्टिकल को सर्च इंजन में उपर लाने का काम करेगा ।

अगर आर्टिकल में सारणी की आवश्यकता हो तो सारणी डाले ।

आर्टिकल जितना अच्छे से setup होगा उतना जल्दी rank करेगा ।

Article में 2% focus keyword का इस्तेमाल करें ।

Article में heading और subheadings का इस्तेमाल करें ।

आर्टिकल पुरा लिखे जाने के बाद उसे एक बार जांच ले और फिर publish करें ।

आर्टिकल publish होने के बाद ये कुछ काम है जो आपको करने है -

Google Search console में जोडे


दोस्तो आर्टिकल पब्लिशिंग करने के बाद उस आर्टिकल का URL link काॅपी करें और Google Search console में जोड़े ।

अगर आपने अभी तक अपनी वेबसाइट को Google Search console में नही जोडा है तो जरुर जोडे , कैसे जोडे ये आप Google पर देख सकते है ।

अगर आपने वेबसाइट जोड रखी है तो Search console को open करें » crwal पर क्लिक करें » fetch as google ।

अब आपके सामने आपकि वेबसाइट के आगे link डालने का option आ जायेगा । वहाँ पर आर्टिकल का लिंक डालकर submit कर दें ।

google Search console में आर्टिकल का लिंक जोडने से गुगल आपके आर्टिकल को जल्दी crawl करता है ।


back link बनाये

How to write SEO friendly article

back link SEO का हि एक पार्ट है आप आर्टिकल के लिये ज्यादा से ज्यादा High quality back link बनायेे ।

Backlinks आपके आर्टिकल को कम समय में रैक boost कर देते हैं . आर्टिकल के लिए जितने अधिक Quality backlinks होंगे उतना जल्दी और high rank पर आर्टिकल आ जाएगा .  

Back link कैसे बनाये ?


अन्य Blog article का विश्लेषण करें 

आप जिस भी टोपीक  पर आर्टिकल लिख रहे हो । उससे जुडे कुछ articles पढे जो गुगल के पहले पेज पर रैक करें रहे है.

उनका बारिकी से विश्लेषण करें । उन articles को लिखने का तरिका कैसा है ? , कहाँ कहाँ किस चीज का इस्तेमाल किया गया है । वो देंखे उसके हिसाब से अपना आर्टिकल लिखे ।


अगर आप इन सभी चीजों को ध्यान में रखते हुये article लिखते है तो आपका आर्टिकल बहुत कम समय में रैंक कर जायेगा ।

दोस्तों अगर जानकारी पसन्द आई तो कमेंट करके जरुर बताये . blogging से जुडी इसी तरह की जानकारी के लिये हमें messenger icon पर click करके msg किजीये ।

Blogging  से update रहने के लिए the blogging in hindi को विजिट करते रहे .


How to write SEO friendly article

Post a Comment

0 Comments